history

शतरंज का इतिहास- The history of chess

शतरंज का इतिहास

Chess,chaturanga,shatranj,
शतरंज- chess
नमस्कार दोस्तो वाच द फैक्ट एक और हिंदी एडिशन में आपका स्वागत है | दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते होंगे दुनिया की कई फेमस बोर्ड गेम्स जैसे लूडो और सांप सीढ़ी जैसे बोर्ड गेम्स की खोज भारत में ही हुई है ।
 
Chess, chaturanga, चतुरंगा, शतरंज
चतुरंगा-chess
ठीक उसी तरह सतरंज की खोज भी भारत में ही हुई है ।

 माना जाता है कि भारत में शतरंज का वजूद चौथी शताब्दी से है तब इसे चतुरंगा  के नाम से जाना जाता था ।

 
जैसा कि आप जानते हैं आज के शतरंज में दो खिलाड़ी खेल सकते हैं पर चतुरंग में चार खिलाड़ी खेला करते थे ‌‍।
और उस समय चतुरंग खेलने के लिए डाइस का उपयोग किया जाता था ।
 
चतुरंगा,chess,shatranj
चतुरंगा
जिससे यह स्ट्रेटजी गेम और लक गेम भी बन जाता था ।
पुराने समय में राजा महाराजा इसे युद्ध की रणनीति सीखने के लिए खेला करते थे ।अगर देखा जाए तो शतरंज चतुरंगा का एक संशोधित रूप है । 
 
शतरंज

 परसिया में इसे शतरंज कहा जाता है ।

 
Xiangqi, chaturanga, SHATRANJ,chess
XIANGQI
चीन में इसे xiangqi कहा जाता है ।

Shogi,chess,
Shogi

जापान में shogi कहते हैं ।

ViswanathanAnand, chess, championship,
विश्वनाथन आनंद

इतना ही नहीं सन् 1886 से यूरोप और अमेरिका में विश्व शतरंज प्रतियोगिता का आयोजन होता आ रहा है ।
भारत के विश्वनाथन आनंद कई बार शतरंज प्रतियोगिता में विश्व विजेता रह चुके हैं ।

चतुरंगा की और रोचक जानकारी के लिए आप हमारा यह
YouTube वीडियो देख सकतेे हैं ।

Do follow us on Facebook.
history of chaturanga(chess)

Comment here